Love Poetry in Hindi | 4 Best Love Poetry in Hindi

Best love Poetry in Hindi यहाँ पढ़ें। हमारे पास शीर्ष संग्रह और नई हिंदी कविता है जिसे आप पढ़ने के बाद बस प्यार में पड़ जाएंगे।अगले ही भाग में प्रस्तुत कर रहा हूँ।

Read The Best Love Poetry in Hindi here. We have the top collection and brand new Hindi poetry that you will just fall in love after reading. Presenting just in the next section.

Love Poetry in Hindi | Hindi Love Poem

Welcome to the world of best love poem in hindi

1.

Milo Naa

मिलो ना

love poetry in hindi
Download Now

मिलो ना कभी

मिलो ना कभी के तुमसे दो बात बोल दूं

खुद से जो कहता हूं

वह राज में खोल दूं ।

यह इश्क है, मोहब्बत है, ना जाने

और क्या है

ख्यालों में, इन राहों में, बस

उनका चेहरा है ।

मिलो ना,

मिलो ना के खुद को हम अब

खोते जा रहे हैं

तन्हा इन रातों में, रफ्ता रफ्ता

तेरे होते जा रहे हैं ।

Milo na kabhi

kabhi ke tumse do baat bol doon

Khud se jo kehta hoon

wo raaz main khol doon

Ye ishq hai , mohabbat hai , na jaane

aur kya hai

Khyalon me , in raho me , bas

unka chehra hai .

Milo na ,

Milo na ke khud ko hum ab

khote jaa rahe hain

Tanha in raaton me, Rafta-Rafta

Tere hote jaa rahe hain.

2.

Tasveer

तस्वीर

love poetry in hindi
Download Now

हम जहां में तेरी, तस्वीर लिए फिरते हैं

उन्हीं ख्वाबों की हम, तासीर लिए फिरते हैं

कोई तो मिले इस जहां में जो तुझे जैसा हो

मुकम्मल हो मेरी इबादत

या यूं कुछ ऐसा हो

जिसे देखकर हाय, नूर बरस जाए

जिसे छूकर ऐसा

के कोहिनूर पिघल जाए

यही चंद हसरतों की जागीर लिए फिरते हैं

हां, हम जहां में

तेरी तस्वीर लिए फिरते हैं 

Hum jahan me teri, tasveer liye firte hain

Unhi khwaabon ki hum, taseer liye firte hain

Koi to mile is jahan me jo tujh jaisa ho

Muqammal ho meri ibadat

ya yun kuch aisa ho

Jise dekh kar haaye , noor baras jaaye

Jise chhoo kar aisa

ke kohinoor pighal jaaye

Yahi chand hasraton ki jaagir liye firte hain

Haan hum jahan me

teri tasveer liye firte hain .

3.

Sharton ko kabhi

शर्तों को कभी

love poetry in hindi
Download Now

शर्तों को कभी हार कर देखो

जान ये किसी पर वार कर देखो

मुकम्मल ख़्वाब तकदीर की बातें

हसरत तमन्ना, लकीर की बातें

कायनात का वो ख़ास नगमा

जिसे देख देख यह दिल धड़का

वह नूर फिज़ा की फिर से मिलेगी

इक चांद आज, ज़मीन पर खेलेगी

दिल को थामे मन को मनाए

रफ्तार सा, ज़रा पुकार कर देखो ।

Sharton ko kabhi haar kar dekho ,

Jaan ye kisi pe waar kar dekho ,

Muqammal khwaab taqdeer ki baatein .

Hasrat tamanna lakeer ki baatein .

Qaaynat ka wo khaas nagma ,

Jise dekh dekh ye dil dhadka ,

Wo noor fiza ki firse milegi ,

ek chand aaj zameen pe khilegi ,

Dil ko thaame man ko manaaye ,

Rafta sa , Zara pukaar kar dekho.

4.

Afsaana Jo Main Likhta Hoon

अफसाना जो मैं लिखता हूं

Romantic shayari
Download Now

अफसाना जो मैं लिखता हूं

कुछ सोचता मैं नहीं,

कुछ जानता ही नहीं

बातें यूं तो हज़ार करता हूं,

और तुझे पहचानता भी नहीं ।

अफ़साने में तुम हमारे, एक ख़्वाब सा हो

सिसकते अंधेरों के बीच कहीं

एक ठहरी मेहताब सा हो ।

के दीदार को अब तरसना,

है छोड़ दिया हमने

दूर हो तुम बेइंतहां,

मगर मुझमे कहीं बेहिसाब सा हो ।

अफसाना यह कैसा,

जो हम सुनाते जा रहे हैं

खो रहे हैं तुमको, और रफ्ता-रफ्ता

पाते जा रहे हैं ।

Afsaana jo main likhta hoon,

Kuch sochta main nahin,

Kuch jaanta hi nahin,

Baatein yun to Hazaar Karta Hoon,

Aur Tujhe pehchaanta bhi nahin.

Afsaane me tum humare ek khwaab sa ho

Sisakte andheron ke beech kahin

Ek thehri mahtaab sa ho

Ke deedar ko ab tarasna,

hai chhor diya humne,

Door ho tum Beintehaan,

magar mujhme kahin behisaab sa ho.

Afsaana ye kaisa,

jo hum sunate jaa rahe hain

Kho rahe hain tumko, Aur rafta-rafta

Paate jaa rahe hain.